Janmashtami 2022 in hindi | जन्माष्टमी पर ये 5 काम करने से जीवन में आएंगी खुशियां

Krishna Janmashtami 2022 in hindi , ना केवल हिन्‍दुस्‍तान बल्कि पूरी दुनिया में जन्‍माष्‍टमी को बेहद हर्ष और उल्‍लास के साथ बनाया जाता है। इन दिन लोग अपने आराध्‍य भगवान श्री कृष्‍ण की भक्ति में लीन हो जाते है। भगवान श्री कृष्‍ण को विष्‍णू का अवतार माना गया है। उन्‍ही के इशारों पर ये सारी दुनिया चल रही है। इस साल जन्‍माष्‍टमी 18 अगस्‍त को होगा।

जन्‍ममाष्‍टमी का दिन कई लिहाज से बेहद खास दिन है। इस दिन लोग पूजा करने से लेकर भर्जन कीर्तन और दही हॉडी फोडने तक के कार्यक्रम करते है। वैसे तो इस दिन कई तरह के कार्य किये जाते है लेकिन आज इस लेख में हम आपको इस खास दिन के ऐसे कुछ कार्य बताने वाले है। जिसे करने से आपकी हर मनोकामना पूरी हो सकती है। हम आपको जिन कार्यो के बारे में बताने वाले है वो अगर आपने किये तो आपकी हर मनोकामना पूरी हो सकती है।
आप भगवान श्री कृष्‍ण को प्रसन्‍न करने के लिए जन्‍माष्‍टमी (Janmashtami 2022) के दिन ये 5 कार्य कर सकते है।

1-चांदी की बांसुरी अर्पित करें

भगवान श्री कृष्‍ण को बांसुरी बहुत पसन्‍द है। पुराणों के अनुसार जब भी भगवान श्री कृष्‍ण अपनी बांसुरी बजाते थे तब तब देवता लोक के देवता भी प्रसन्‍न होकर नाचने लगते थे। इसी लिए अगर आप जन्‍माष्‍टमी के दिन भगवान श्री कृष्‍ण को बांसुरी अर्पित करेंगे तो आपके ऊपर भगवान की विशेष कृपा हो सकती है।
munawwar rana story | मोहब्‍बत की बात करने वाले मुनव्‍वर मुसलमानों के शायर क्‍यो बन गये

2-पारिजात के फूल चढ़ाएं

बासुंरी की तरह की भगवान श्री कृष्‍ण को फूलो की भेट भी काफी पसन्‍द आती है। पुराणों में भी ये बात लिखी हुई है कि भगवान श्री कृष्‍ण को परिजात के फूल काफी पसन्‍द आते है। तो अगर इस जन्‍माष्‍टमी आपको भगवान को दिल से खुश करना हो तो भगवान को परिजात के फूल अवश्‍य भेंट करे। परिजात के फूल भगवान को चढाने से आपके ऊपर भगवान की कृपा हमेशा बनी रहेगी।

3- शंख में दूध लेकर करें अभिषेक

जन्‍माष्‍टमी के दिन लोग भगवान का अभिषेक भी करते है। भगवान का अभिषेक करने पर भगवान अतिप्रसन्‍न हो जाते है। लेकिन अगर आप शंख में दूध लेकर भगवान का अभिषेक करते है। तो ये काफी ज्‍यादा शुभ हेाता है। इसी इस जन्‍माष्‍टमी जब भी भगवान का अभिषेक करे तो ये याद रखे कि आपको शंख में दूध लेकर अभिषेक करना हैै।

4- छप्‍पन भोग लगायें

मान्यताओ के अनुसार जन्माष्टमी के अवसर पर कान्हा की पूजा-अर्चना करने के बाद अगर उनको छप्पन भोग लगाया जाए, तो इससे भी कान्हा प्रसन्न होते हैं और उनकी विशेष कृपा होती है. साथ ही भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

5-मोरपंख करें अर्पित

कान्हा की विशेष कृपा पाने के लिए आप जन्माष्टमी पर भगवान कृष्ण को मोरपंख अर्पित कर सकते हैं. इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के मुकुट पर मोरपंख लगाने से भगवान प्रसन्न होते हैं और भक्तों पर अपनी कृपा बरसाते हैं.

ये भी पढ़े-

Janmashtami kyu manate hai | जन्‍माष्‍टमी पर क्‍या हुआ था

Kanwar yatra ki history kya hai | कांवड़ यात्रा का इतिहास (हिन्‍दी में)

सावन में हर शिव भक्त को करना चाहिए इन नियमों 5 का पालन

जन्‍माष्‍टमी पर 56 भोग क्‍यो लगाया जाता है

मान्यताओ के अनुसार जन्माष्टमी के अवसर पर कान्हा की पूजा-अर्चना करने के बाद अगर उनको छप्पन भोग लगाया जाए, तो इससे भी कान्हा प्रसन्न होते हैं और उनकी विशेष कृपा होती है. साथ ही भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply